window.dataLayer = window.dataLayer || []; function gtag(){dataLayer.push(arguments);} gtag('js', new Date()); gtag('config', 'UA-264151987-1');

Technology News: अब आपके हाथ से चार्ज होगा आपका फोन व लैपटॉप, IT Mandi प्रोफेसर्स ने बताई टैक्नीक

Anil Biret
4 Min Read

SSO Rajasthan, Technology News: कितना अच्छा हो कि आप दिन भर अपना स्मार्टफोन (Smartphone) चलाएं लेकिन उसकी बैटरी कभी खत्म न हो। इसी तरह आपकी दूसरी इलेक्ट्रॉनिक डिवाईसेज (electronic devices) , गैजेट्स (electronic gadgets) और लैपटॉप की बैटरी भी लगातार बिना चार्ज चलती रहे तो निश्चित तौर पर आपको अच्छा लगेगा। अब इसी उद्देश्य को ध्यान रखते हुए आईआईटी मंडी (IIT Mandi) के कुछ प्रोफेसर्स ने एक नई रिसर्च पर काम शुरु किया है।

IIT की टीम कर रही है रिसर्च

आईआईटी मंडी (IIT Mandi) के एसोसिएट प्रोफेसर अजय सोनी (Associate Professor Ajay Soni) के अनुसार वह वर्तमान में थर्मो इलेक्ट्रिकल मटेरियल (thermo electrical material) पर काम कर रहे हैं। इस पद्धति में एक खास मॉड्यूल की मदद लेकर गर्मी से ऊर्जा प्राप्त की जा सकती है।

इसके लिए न तो बहुत बड़े उपकरण चाहिए और न ही सूरज जैसे विशाल और बेहद गर्म ऑब्जेक्ट की जरूरत है। प्रोफेसर सोनी ने कहा कि इस टैक्नीक के आ जाने के बाद स्मार्टफोन सहित कई आधुनिक इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स को मानव शरीर की गर्मी से चार्ज किया जा सकेगा।

अब मानव मस्तिष्क में लगेगी चिप, कम्प्यूटर से कंट्रोल कर सकेंगे दिमाग और शरीर

रिसर्च (Research) में शामिल शोधकर्ताओं की टीम ने कई नई स्मार्ट सामग्रियां विकसित की हैं जो अलग-अलग उपकरणों की बेकार जाने वाली गर्मी को बिजली और बिजली के छोटे घरेलू उपकरणों और ऑटोमोबाइल (Automobile) में कुशलता से बदल सकती हैं।

इनके जरिए अपशिष्ट ऊष्मा को विद्युत ऊर्जा (electrical energy) में परिवर्तित किया जा सकेगा। इन्हें थर्मोइलेक्ट्रिक सामग्री का नाम दिया गया है। इनके एक सिरे को गर्म और दूसरे सिरे को ठंडा रखने से विद्युत वोल्टेज पैदा होता है, जिसे काम लेकर हम किसी भी गैजेट को चार्ज कर सकेंगे।

Haryana में एक ही गांव के दो लड़कों ने पास की UPSC Exam, दोनों का है 1 ही नाम

इंसानी शरीर के स्पर्श से चार्ज हो सकेंगे गैजेट्स (Science News)

प्रोफेसर सोनी ने बताया कि उनके द्वारा तैयार किया गया प्रोटोटाइप एक मॉड्यूल की मदद से इंसानी शरीर की गर्मी से ऊर्जा (energy from human body heat) हासिल कर उसे इलेक्ट्रिसिटी में तब्दील कर सकता है।

उदाहरण के तौर पर इस तकनीक के जरिए मोबाइल फोन (Mobile Phone) को केवल हथेली में पकड़ने या फिर जेब में रखने भर से ही चार्ज किया जा सकता है। इसी प्रकार लैपटॉप को गोद (लैप) में रखने भर से ही वह भी बिना किसी चार्जर, सॉकेट या स्विच के चार्ज किया जा सकेगा।

डॉक्टर सोनी ने बताया कि इन उपकरणों को चार्ज करने के लिए इंसान के शरीर से निकलने वाली गर्मी ही काफी है। इसके लिए इन सभी गैजेट्स में एक छोटा सा मॉड्यूल सेट किया जाएगा। यह मॉड्यूल शरीर की गर्मी से इन उपकरणों को चार्ज कर सकता है। लैपटॉप, स्मार्टफोन, स्मार्ट वॉच सहित अन्य कई गैजेट्स को इसकी सहायता से चार्ज किया जा सकेगा।

Share this Article
Leave a comment