Tarbandi Yojana: आवास पशुओं से फसलों को बचाने के लिए सरकार दे रही है 48000 रुपये, Free में उठाएं योजना का लाभ

Kumar Sandeep
Kumar Sandeep  - Editor
2 Min Read

Rajasthan Govt Tarbandi Yojana: देश में एक बड़ी आबादी कृषि क्षेत्र से जुड़ी है। ऐसे में करोड़ों लोगों की आमदनी का मुख्य स्त्रोत कृषि है। इस कारण देशभर में बड़े पैमाने पर लोग कृषि करते हैं। गौरतलब बात है कि बीते लंबे समय से खेतों में घूमने वाले आवारा पशुओं की समस्या किसानों को काफी परेशान करती आ रही है।

हर साल ये आवारा पशु देशभर के कई किसानों की फसलों को काफी नुकसान पहुंचाते हैं। ऐसे में उनकी उपज ठीक ढंग से तैयार नहीं हो पाती है, जिसके चलते किसानों को काफी नुकसान का सामना करना पड़ता है। ऐसे में देश में कई किसान पूरे पूरे दिन और रात के समय भी अपने खेतों की रखवाली करते हैं।

इसी कड़ी में आज हम आपको राजस्थान सरकार की एक बेहद ही शानदार योजना के बारे में बताने जा रहे हैं। इस स्कीम के अंतर्गत सरकार पशु से फसलों की बचाव के लिए किसानों को पैसे दे रही है।

राजस्थान सरकार की इस स्कीम का नाम तारबंदी योजना है। इसे हाल ही में शुरू किया गया है। स्कीम के अंतर्गत राज्य सरकार किसानों को जंगली पशुओं से फसलों को बचाने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान कर रही है।

Taar Bandi

इस स्कीम के अंतर्गत सरकार ने जंगली और आवारा पशुओं से फसलों को बचाने के लिए कांटेदार तार लगाने का फैसला लिया है। स्कीम का लाभ सभी किसानों को मिलेगा।

हालांकि, आवेदक किसान के पास 1.5 हेक्टेयर भूमि का होना जरूरी है। तारबंदी योजना के तहत लघु और सीमांत किसानों को 60 प्रतिशत तक की सब्सिडी के तौर पर 48 हजार रुपये की सहायता राशि प्रदान की जा रही है।

इसके अलावा अन्य किसानों को 50 प्रतिशत सब्सिडी के तौर पर 40 हजार रुपये दिए जाएंगे। इस स्कीम का लाभ उठाने के लिए किसानों को राजस्थान सरकार के कृषि पोर्टल राजकिसान साथी पर जाकर आवेदन करना होगा।

Share this Article
By Kumar Sandeep Editor
Follow:
मेरा नाम संदीप कुमार है. मैं हरियाणा का निवासी हूं. मैंने स्नातक तक की पढ़ाई पूरी कर ली है. वर्तमान में मै SSORajasthan.in पर बतौर लेखक के रूप में कार्य कर रहा हूं. मै सरकार के द्वारा चलाई जा रही विभिन्न स्कीम, एजुकेशन और लाइफ स्टाइल से जुड़े विभिन्न कंटेंट जितनी जल्द हो सके पाठको तक पहुंचाने की कोशिश करता हूँ.
Leave a comment