window.dataLayer = window.dataLayer || []; function gtag(){dataLayer.push(arguments);} gtag('js', new Date()); gtag('config', 'UA-264151987-1');

Rajasthan New District Boundary: Rajasthan के New 19 District की 15 दिनों में तय होगी सीमा

Anil Biret
3 Min Read

SSO Rajasthan, Rajasthan New District Boundary: राजस्थान में नए जिलों के गठन को लेकर विशेषाधिकारी (ओएसडी) व कलेक्टरों की टीम ने लगभग सीमांकन तय कर लिया है। नए जिलों में शामिल तहसील (Tahsil), उपखंड (subdivision), पंचायत (Panchayat) के सीमांकन को आधार मानकर काम किया जा रहा है। वहीं राजस्व विभाग (revenue Department) भी नए जिलों पर काम कर रहा है। प्रदेश में 19 नए जिलों में शामिल होनी वाली तहसीलों के नाम तय कर प्रारंभिक रिपोर्ट बना ली है।

राजस्व विभाग को रामलुभाया कमेटी की रिपोर्ट नहीं मिली है। सरकार से रामलुभाया कमेटी की रिपोर्ट मिलते ही 15 दिनों में नए जिलों का सीमांकन फाइनल (New District) हो जाएगा। लैंड रेवेन्यू एक्ट (land revenue act) में सीमा का निर्धारण करने के बाद जिले बनाए जाएंगे। जिले में किसी गांव या तहसील, पटवार सर्किल के शामिल होने को लेकर कमेटी भौगोलिक स्थिति को लेकर फैसला करती है।

इन्हे बनाया गया था विशेषाधिकारी

राजेन्द्र विजय (Rajender Vijay) को बालोतरा, हरजी लाल अटल को सांचोर, नम्रता वृष्णि को कुचामन-डीडवाना, खजान सिंह को केकड़ी, शुभम चौधरी को कोटपूतली-बहरोड़, पूजा कुमारी पार्थ को नीमकाथाना, अंजली राजोरिया को गंगापुरसिटी, सीताराम जाट को अनूपगढ़, शरद मेहरा को डीग, डॉ. ओमप्रकाश बैरवा को खैरथल, जसमीत सिंह संधू को फलौदी, प्रताप सिंह को सलूंबर, डॉ. मंजू को शाहपुरा, रोहिताश्व सिंह तोमर को ब्यावर और अर्तिका शुक्ला को दूदू नवगठित जिले में विशेषाधिकारी लगाया गया है।

Earth Quake: Rajasthan में अभी-अभी महसूस हुए भूकंप के झटके, 4.3 मापी गई तीव्रता

जयपुर और जोधपुर के नए जिलों पर मौन

जयपुर (Jaipur) और जोधपुर (Jodhpur) को दो-दो हिस्सों में बांटकर बनाए गए नए जिलों के लिए कोई विशेषाधिकारी नहीं लगाया गया। इससे सवाल उठ रहे हैं कि क्या स्थानीय विरोध के कारण फिलहाल इन दोनों जगहों को लेकर क्या सरकार ने चुप्पी साध ली है या सरकार का कुछ और प्लान है।

SSO Rajasthan, Haryana Nrega

Disclaimer: SSO Rajasthan पर आपको सरकारी नौकरी व सरकारी योजनाओं समेत खेती बाड़ी की सही व स्टीक जानकारी देने की कोशिस करते है। कुछ जानकारियां सोशल मीडिया पर वायरल खबरों के आधार पर दी जाती है जिसकी SSO Rajasthan पुष्टि नहीं करता।

Share this Article
Leave a comment