window.dataLayer = window.dataLayer || []; function gtag(){dataLayer.push(arguments);} gtag('js', new Date()); gtag('config', 'UA-264151987-1');

PM मोदी सरकार जनमन योजना 2024: 24हज़ार करोड़ रुपे की पहली किस्त जारी!

Anil Biret
3 Min Read

प्रधानमंत्री जनमन योजना के तहत, 15 फरवरी को देशभर के गरीब लोगों के बैंक खातों में 24 हजार करोड़ रुपए की पहली किस्त जारी की गई है। आप घर बैठे चेक कर सकते हैं कि आपके बैंक खाते में पैसे आए हैं या नहीं। सरकार ने इस योजना के तहत 24 हजार करोड़ रुपए की पहली किस्त जारी करते हुए देशवासियों को शिक्षा, बिजली, सड़क, स्वास्थ्य, पोषण, दूरसंचार कनेक्टिविटी, और स्थाई आजीविका के अवसर प्रदान किए हैं। इस योजना से 1 लाख लोगों को सीधा फायदा हुआ है। इस योजना के तहत, सरकार गरीब व्यक्तियों के लिए पक्के मकान की व्यवस्था करेगी और प्रति मकान सरकार द्वारा 2.39 लाख रुपए दिए जाएंगे। यह योजना 200 जिलों में लागू की जाएगी और 22,000 विशेष रूप से कमजोर जनजातियों, बहुसंख्यक जनजातियों, पीवीटीजी परिवारों तक इसका लाभ पहुंचाया जाएगा। पहली किस्त देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 15 जनवरी को 12:30 बजे जारी की गई है। पूरा नाम प्रधानमंत्री जनजाति आदिवासी न्याय महा अभियान (पीएम जनमन योजना) है जिसका उद्देश्य गरीब कमजोर जनजाति समूह को सुरक्षित आवाज और अन्य योजनाओं के लिए प्रेरित करना है। 2011 की जनगणना के अनुसार, भारत में अनुसूचित जनजाति (एसटी) की आबादी 10.45 करोड़ है, जिसमें 18 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेश अंडमान और निकोबार द्वीप समूह के 75 समुदायों को विशेष रूप से कमजोर जनजाति समूहों (पीवीटीजी) के रूप में पहचाना गया है। इन पीवीटीजी समूहों को सामाजिक, आर्थिक और शैक्षिक क्षेत्रों में कमजोरियों से निपटने के लिए यह योजना शुरू की गई है। PM Modi MP Visit: 27 जून को एमपी के दौरे पर आएंगे प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी, प्रदेश को देंगे दूसरी वंदे भारत की सौगात - PM Modi MP Visit Prime Minister Narendra Modi

उद्देश्य:-

पीएम जनमन योजना का उद्देश्य, पीवीटीजीएस को सुरक्षित आवास प्रदान करना है, साथ ही स्वच्छ पेयजल, स्वच्छता, शिक्षा, स्वास्थ्य देखभाल, सड़क, और दूरसंचार कनेक्टिविटी सहित स्थाई आजीविका के अवसर प्रदान करना है। इसके साथ ही जागरूकता बढ़ाना और पीवीटीजीएस को उनके अधिकारों के लिए शिक्षित करना भी उद्देश्य है। यह समुदायों को सशक्त बनाने और उनकी भागीदारी को बढ़ावा देने का कारण है।

पीएम जनमन योजना के लाभ:-

इस योजना के तहत पात्र परिवारों को पक्का मकान प्रदान किया जाएगा, जिसमें सड़क, दूरसंचार कनेक्टिविटी, स्वास्थ्य देखभाल, बच्चों की शिक्षा, स्वच्छ पेयजल, सुरक्षित और मजबूत आवास होगा। सरकार द्वारा यह सुविधा प्रदान की जाएगी और उसके ऊपर पैसा दिया जाएगा, जो किस्तों के रूप में जारी होंगें।श्री नरेंद्र मोदी | भारतीय जनता पार्टी

पीएम जनमन योजना के पूर्ण लाभों को चेक करने के लिए निम्नलिखित प्रक्रिया का पालन करें:

  1. केंद्र सरकार द्वारा जारी होने वाले पेमेंट को एक पोर्टल के माध्यम से बताया जाता है।

  2. आप घर बैठे इस पोर्टल पर जाकर अपने खाते में पैसे आए या नहीं इसे चेक कर सकते हैं।

  3. डायरेक्ट लिंक का उपयोग करके आप अपना पेमेंट चेक कर सकते हैं।

  4. अपनी डिटेल्स सही-सही भरकर आप यहां से अपना पेमेंट चेक कर सकेंगे।

  5. जनमन योजना की पहली किस्त चेक करने के लिए यहां क्लिक करें

Contents
प्रधानमंत्री जनमन योजना के तहत, 15 फरवरी को देशभर के गरीब लोगों के बैंक खातों में 24 हजार करोड़ रुपए की पहली किस्त जारी की गई है। आप घर बैठे चेक कर सकते हैं कि आपके बैंक खाते में पैसे आए हैं या नहीं। सरकार ने इस योजना के तहत 24 हजार करोड़ रुपए की पहली किस्त जारी करते हुए देशवासियों को शिक्षा, बिजली, सड़क, स्वास्थ्य, पोषण, दूरसंचार कनेक्टिविटी, और स्थाई आजीविका के अवसर प्रदान किए हैं। इस योजना से 1 लाख लोगों को सीधा फायदा हुआ है। इस योजना के तहत, सरकार गरीब व्यक्तियों के लिए पक्के मकान की व्यवस्था करेगी और प्रति मकान सरकार द्वारा 2.39 लाख रुपए दिए जाएंगे। यह योजना 200 जिलों में लागू की जाएगी और 22,000 विशेष रूप से कमजोर जनजातियों, बहुसंख्यक जनजातियों, पीवीटीजी परिवारों तक इसका लाभ पहुंचाया जाएगा। पहली किस्त देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 15 जनवरी को 12:30 बजे जारी की गई है। पूरा नाम प्रधानमंत्री जनजाति आदिवासी न्याय महा अभियान (पीएम जनमन योजना) है जिसका उद्देश्य गरीब कमजोर जनजाति समूह को सुरक्षित आवाज और अन्य योजनाओं के लिए प्रेरित करना है। 2011 की जनगणना के अनुसार, भारत में अनुसूचित जनजाति (एसटी) की आबादी 10.45 करोड़ है, जिसमें 18 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेश अंडमान और निकोबार द्वीप समूह के 75 समुदायों को विशेष रूप से कमजोर जनजाति समूहों (पीवीटीजी) के रूप में पहचाना गया है। इन पीवीटीजी समूहों को सामाजिक, आर्थिक और शैक्षिक क्षेत्रों में कमजोरियों से निपटने के लिए यह योजना शुरू की गई है। उद्देश्य:- पीएम जनमन योजना का उद्देश्य, पीवीटीजीएस को सुरक्षित आवास प्रदान करना है, साथ ही स्वच्छ पेयजल, स्वच्छता, शिक्षा, स्वास्थ्य देखभाल, सड़क, और दूरसंचार कनेक्टिविटी सहित स्थाई आजीविका के अवसर प्रदान करना है। इसके साथ ही जागरूकता बढ़ाना और पीवीटीजीएस को उनके अधिकारों के लिए शिक्षित करना भी उद्देश्य है। यह समुदायों को सशक्त बनाने और उनकी भागीदारी को बढ़ावा देने का कारण है।पीएम जनमन योजना के लाभ:- इस योजना के तहत पात्र परिवारों को पक्का मकान प्रदान किया जाएगा, जिसमें सड़क, दूरसंचार कनेक्टिविटी, स्वास्थ्य देखभाल, बच्चों की शिक्षा, स्वच्छ पेयजल, सुरक्षित और मजबूत आवास होगा। सरकार द्वारा यह सुविधा प्रदान की जाएगी और उसके ऊपर पैसा दिया जाएगा, जो किस्तों के रूप में जारी होंगें। पीएम जनमन योजना के पूर्ण लाभों को चेक करने के लिए निम्नलिखित प्रक्रिया का पालन करें:केंद्र सरकार द्वारा जारी होने वाले पेमेंट को एक पोर्टल के माध्यम से बताया जाता है।आप घर बैठे इस पोर्टल पर जाकर अपने खाते में पैसे आए या नहीं इसे चेक कर सकते हैं।डायरेक्ट लिंक का उपयोग करके आप अपना पेमेंट चेक कर सकते हैं।अपनी डिटेल्स सही-सही भरकर आप यहां से अपना पेमेंट चेक कर सकेंगे।जनमन योजना की पहली किस्त चेक करने के लिए यहां क्लिक करें
Share this Article
Leave a comment