Haryana में कोई भी बच्चा नहीं रहेगा शिक्षा से वंचित, इस योजना के तहत Free में पढेगें बच्चे

Anil Biret
4 Min Read

Haryana Chirag Yojana 2023: हरियाणा सरकार गरीब परिवारों के लिए बहुत सी एसी योजना चलाती रहती है ताकि गरीब परिवारों को बहुत से लाभ मिल सके एसे ही एक और नए लाभ के लिए सरकार ने बच्चे की पढाई को मुफ्त करने के लिए यह योजना बनाई है में haryanaupdate.com से आज आपको इस पोस्ट के माध्यम से एसी योजना के लिए बताउगी जिससे गरीब बच्चो को बहुत ज्यादा लाभ मिलेगा आईये जानते है …

कब कर सकते है आवेदन

हम आपको बता दे कि नियम 134-A की तर्ज पर शिक्षा विभाग द्वारा शुरू की गई चिराग योजना के तहत आवेदन प्रक्रिया शुरू हो गई है. एडमिशन लेने के इच्छुक छात्र 15 से 31 मार्च तक आनलाइन आवेदन कर सकते हैं. मुख्यमंत्री हरियाणा समान शिक्षा राहत, सहायता एवं अनुदान (चिराग) के तहत प्राइवेट स्कूलों ने अपनी सहमति पोर्टल पर दे दी है.

इस योजना का उदेश्य

हम आपको बता दे कि इस योजना का उदेश्य, आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों के बच्चे मान्यता प्राप्त प्राइवेट स्कूलों में दाखिला ले सकेंगे. जिसमें कक्षा तीसरी से 12वीं तक केवल उन्हीं छात्रों को एडमिशन मिलेगा जो फिलहाल सरकारी स्कूलों के छात्र हैं.

शिक्षा विभाग ने किया पत्र जारी

शिक्षा विभाग की ओर से इस संबंध में सभी जिला शिक्षा अधिकारियों और मान्यता प्राप्त प्राइवेट स्कूलों को योजना के बारे में पत्र जारी कर दिया है. इसके बाद, संबंधित स्कूल कक्षा के अनुसार सीटों का विवरण विभाग की साइट पर अपलोड करेगा और सीटों का ब्यौरा अपने नोटिस बोर्ड पर दर्शाएगा.

एडमिशन लेने के लिए छात्र अपने खंड के एक से अधिक स्कूलों में आवेदन कर सकते हैं. स्कूल छात्रों से प्राप्त आवेदन पोर्टल पर अपलोड करेगा. जिन स्कूलों में सीटों से ज्यादा आवेदन मिलते है वहां ऐसी स्थिति में एडमिशन के लिए एक अप्रैल से 5 अप्रैल के बीच लॉटरी के जरिए ड्रा निकाला जाएगा.

क्या रहेगा शेड्यूल?

15 से 31 मार्च तक अभिभावक व छात्र प्राइवेट स्कूलों के लिए आवेदन कर पायेगे .
जिन स्कूलों में सीटों से ज्यादा आवेदन प्राप्त होंगे तो उस स्थिति में एडमिशन के लिए 1 से 5 अप्रैल के बीच ड्रा निकाला जाएगा.
निजी स्कूल प्राप्त आवेदनों 1 से 10 अप्रैल तक एडमिशन प्रोसेस को पूरा करेंगे. दाखिले की सूची में शामिल छात्रों के नाम नोटिस बोर्ड पर दर्शा दिए जाएंगे.
15 अप्रैल तक रिक्त सीटों पर वेटिंग लिस्ट में शामिल छात्रों को एडमिशन मिलेगा.
कौन से छात्र ले पायेगे एडमिशन
चिराग योजना के तहत, मनपसंद प्राइवेट स्कूल में केवल उन्हीं छात्रों को एडमिशन मिलेगा जिनके परिवार की सालाना आय 1 लाख 80 हजार रुपए या इससे कम होगी. आय का आधार परिवार पहचान पत्र में दर्शाई गई इनकम को माना जाएगा.

क्या चाहिए डाक्यूमेंट्स?

इसके अलावा, जो छात्र पिछले साल सरकारी स्कूल में पढ़ चुके हैं केवल वही एडमिशन के लिए पात्र होगा.

छात्र के पास पिछले स्कूल का स्कूल छोड़ने का सर्टिफिकेट और परिवार पहचान पत्र होना जरूरी है. इसके अलावा, छात्र एडमिशन के लिए केवल उसके वर्तमान ब्लॉक के मान्यता प्राप्त प्राइवेट स्कूलों में उपलब्ध सीटों पर दाखिले के लिए पात्र होंगे.

Share this Article
Leave a comment