1957 में शुरू हुई थी Landan To Kolkata Bus Service, लंदन से कलकत्ता पहुंचने में लगते थे 50 दिन

Kumar Sandeep
Kumar Sandeep  - Editor
2 Min Read

SSO Rajasthan, Landan To Kolkata Bus: क्या आपको मालूम है कि 16100 किलोमीटर लंबे लंदन-कलकत्ता रूट पर बस चला करती थी ? जो दुनिया का सबसे लंबा बस रूट रहा है।लंदन ब्रिटेन का मुख्य शहर ओर राजधानी है तो कलकत्ता ब्रिटिश इंडिया की राजधानी थी।लेकिन यह बस आज़ाद भारत मे 1957 में चली।

पहली लंदन-कोलकाता बस बीस सवारियों को लेकर 15 अप्रैल 1957 को लंदन (London) से निकली और फ्रांस, इटली, यूगोस्लाविया, बुल्गारिया, तुर्की, ईरान, पाकिस्तान होते हुए अमृतसर, दिल्ली पहुंची और फिर आगरा, इलाहाबाद, बनारस होते हुए 50 दिन बाद 5 जून 1957 को कोलकाता पहुंची।

लंदन से कोलकाता (Kolkata) के लिए 1957 में इसका किराया 85 पाउंड था जो 1973 में 145 पाउंड पहुंच गया।इस किराए में खाना-पीना-सोना और रहना शामिल था।यह उस टाइम की सबसे लक्ज़री बस थी।जिसमे म्यूजिक सिस्टम-पढ़ने के लिए बुक्स थी ओर सफर को मज़ेदार-रोमांचक ओर यादगार बनाने के लिए यह बस जगह जगह रुकती भी थी।

Landan To Kolkata Bus First Bus

Landan To Kolkata Bus

 2000 के नोट के बाद 1000 रुपये का सिक्का जारी, इस दिन दिखेगी पहली झलक

जैसे ताजमहल (Taj Mahal) देखने आगरा शॉपिंग के लिए ईरान और तुर्की। बस को अंदर से गर्म रखने के लिए इसमें हीटिंग सिस्टम तक मौजूद था।लंदन-कोलकाता रूट को हिप्पी टूर के नाम से जाना जाता था जो मज़े करने के लिए पैदा हुए थे ओर यह बस बेहले ओर मज़े करने वालों के लिए ही थी क्योंकि इतने पैसे में जहाज से 16 घँटे में लंदन पहुंचा जा सकता था वहां यह बस लगभग दो महीने लगाती थी।बाद में इस बस को कोलकाता-लंदन-सिडनी भी चलाया गया

Share this Article
By Kumar Sandeep Editor
Follow:
मेरा नाम संदीप कुमार है. मैं हरियाणा का निवासी हूं. मैंने स्नातक तक की पढ़ाई पूरी कर ली है. वर्तमान में मै SSORajasthan.in पर बतौर लेखक के रूप में कार्य कर रहा हूं. मै सरकार के द्वारा चलाई जा रही विभिन्न स्कीम, एजुकेशन और लाइफ स्टाइल से जुड़े विभिन्न कंटेंट जितनी जल्द हो सके पाठको तक पहुंचाने की कोशिश करता हूँ.
Leave a comment