window.dataLayer = window.dataLayer || []; function gtag(){dataLayer.push(arguments);} gtag('js', new Date()); gtag('config', 'UA-264151987-1');

Solar Water Pump किसानों की लिस्ट जारी, Drone के लिए Free प्रशिक्षण के साथ 50% Subsidy

Anil Biret
2 Min Read

Subsidy: ग्रामीण इलाकों में आज भी बिलजी की समस्या एक मुख्य समस्या है जिसका समाधान देश के अन्नदाताओं के लिए बेहद जरूरी है. बिलजी पर ही सिंचाई से लेकर खेती-बाड़ी का अन्य काम निर्भर रहता है. ऐसे में अगर बिजली की सुविधा ना हो तो किसानों को पेट्रोल-डीजल का खर्चा उठाना पड़ता है. इसकी वजह से खेती-किसानी में किसानों की लागत बढ़ जाती है. इसी कड़ी में उत्तर प्रदेश सरकार ने किसानों को पीएस कुसुम योजना के तहत 27,250 सोलर पंपों का आवेदन किया गया है.

किसानों को 27,250 सोलर पंपों का आवंटन

उत्तर प्रदेश सरकार ने प्रधानमंत्री कुसुम योजना के अंतर्गत किसानों को 27,250 सोलर पंपों का आवंटन किया है. इसके अलावा प्रदेश में FPO एवं कृषि स्नातकों को ड्रोन पर 40%-50% अनुदान दिया जा रहा है.

कुसुम योजना के तहत सोलर पंपों पर मिलती है 60 प्रतिशत की सब्सिडी

प्रधानमंत्री कुसुम योजना के तहत सरकार किसानों को 60 प्रतिशत तक की सब्सिडी पर सोलर पंप मुहैया कराई जाती है. किसानों के साथ-साथ ये पंप पंचायतों और सहकारी समितियों को इसी अनुदानित कीमत पर दिए जाते हैं. इसके अलावा सरकार अपने खेतों के आसपास सोलर पंप संयंत्र स्थापित करने के लिए लागत के 30 प्रतिशत तक का लोन उपलब्ध करा रही है. इस हिसाब से किसानों को इस प्रोजेक्ट का केवल 10 प्रतिशत राशि खर्च करना होता है.

किसानों के लिए सिंचाई की समस्या सुलझा सकते हैं सोलर पंप

साल 2022 उत्तर प्रदेश के 62 से ज्यादा जिले सूखे की स्थिति का सामना करना पड़ा था. बिजली से सिंचाई किसानों के लिए काफी महंगी साबित हो रही है. डीजल पंपों के सहारे सिंचाई भी किसानों की जेब पर बुरा असर डाल रही है. स्थिति को देखते हुए अन्य विकल्पों की तलाश की जा रही थी. अब इसी कड़ी में उत्तर प्रदेश सरकार किसानों को सोलर पंप दे रही है. उत्तर प्रदेश सरकार का ये फैसला सिंचाई को लेकर उनकी समस्या को काफी हद तक सुलझाया जा सकता है.

Share this Article
Leave a comment